आत्मविश्वास का जादू और Magic Johnson का सफल जीवन

आत्मविश्वास,magic-johnson-success-story-in-hindi,self-confidence-in-hindi




आत्मविश्वास (self confidence) के जादू के बारे में आज हम बात करने जा रहे हैं और वह शख्स जिसके माध्यम से हम यह प्रेरक तथ्य आपके सामने प्रस्तुत कर रहें हैं उनका नाम है मैजिक जॉनसन. हो सकता है आपने उनका नाम सुना हो  या ना भी सुना हो . लेकिन जैसा उनके नाम में पहले मैजिक है उनकी जिंदगी में भी मैजिक हुआ है . यह मैजिक है आत्मविश्वास का मैजिक(Magic of Self-confidence).बदतर  से भी कैसे बेहतर निकाल सकते हैं शायद इस सोच का नाम है मैजिक जॉनसन.. 

 

लेकिन ठहरिये . अगर आप इसे  एक जीवन चरित्र एक बायोग्राफी समझ कर पढ़ना बंद करना चाहते हैं ,तो हमारा अनुरोध  मानकर इस आलेख को पूरा पढ़िए.इसे पूरा पढ़ लेने से आप को आप के जीवन को बदलने वाले कुछ अनमोल सूत्र मिलेंगे..

 

मैजिक जॉनसन अमेरिका के प्रसिद्ध अश्वेत बास्केटबॉल खिलाड़ी हैं. जिन्होंने अमेरिका के लिए वर्ष 1992 में  समर ओलंपिक में गोल्ड मेडल भी जीता है. उनकी प्रसिद्धि किसी पहचान का मोहताज नहीं है. यहां हम जिस बात पर जोर देना चाहते हैं, वह है कि  आत्मविश्वास व्यक्ति के जीवन में क्या परिवर्तन कर सकता है?  कितना महत्व रखता है? इस तथ्य के बारे में…

 

जीवन में घट रही  नकारात्मक घटनाओं के प्रति भी सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाकर, जीवन में जो सकारात्मक परिवर्तन हो सकता है, इसका  उदाहरण हैं   मैजिक जॉनसन . मैजिक जॉनसन वर्ष 1991 से एचआईवी(HIV) से ग्रस्त है .जहां एड्स जैसी बीमारियों का नाम सुनते ही लोग आधा तो खुद से मर जाते हैं.यह शख्स उसी बीमारी की अवस्था में खुद को चुस्त तंदुरुस्त  रखकर एक सफल व्यावसायिक जीवन जी रहा है.AIDS से ग्रस्त होने के बावजूद भी आज इस बीमारी AIDS से ग्रस्त लाखों-करोड़ों लोगों की जीवन में बदलाव की मुहिम का अलख जगा रहे हैं. वह इस बात का जीता जागता सबूत है कि

व्यक्ति बीमारी से नहीं अपनी कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता की वजह से मरते हैं.  मैजिक जॉनसन से बड़ा इस बात का कोई उदाहरण हो नहीं सकता …और अगर अपने ऊपर यकीन हो तो आदमी वह कर सकता है जिसकी दुनिया में करोड़ों-करोड़ लोग कल्पना भी नहीं कर सकते…

दुर्बल Immune system का कारण

जो हमने ऊपर बताया कि हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है.  “रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने की मुख्य वजह व्यक्ति का मन से कमजोर हो जाना है . व्यक्ति का मन कमजोर होता है उसके चेतना  के स्तर में कमी होने से …और चेतना कम होती है एकाग्रता कम होने से …”

व्यक्ति का  मन कमजोर होता है उसके  भीतर उठ रहे नकारात्मक भावनाओं से . ये नकारात्मक भावनाएं क्या हो सकतीं हैं ? ये नकारात्मक भावनाएं हो सकतीं हैं,-भय ,ईर्ष्या,अहंकार,अनिष्ट की चिंता ,अनहोनी की आशंका,अलगाव का भाव और ऐसी ही कोई अन्य भावना  जो मन को पीड़ा पहुचाये .

मन में उठतें ऐसी ही भावनाएं विचार में बदल जाती हैं. पुनः इस विचार से और नकारात्मक भावनाएं पैदा होतीं हैं और व्यक्ति इस विषवृत(vicious cycle)  में लगातार फंसता चला जाता है, जो अंततोगत्वा उसके रोग प्रतिरोधन क्षमता में अत्यंत कमी पैदा कर उसे मौत के मुंह में डाल देता है.

 

क्या सब विपरीत परिस्थितियों में सकारात्मक रह सकते हैं

 

नकारात्मक अथवा विपरीत परिस्थितियों में सकारात्मक रहना एक स्वाभाव है. यह अपने आप में एक कला है. यह परिणाम है सकारात्मक पालन-पोषण का.जहां माता-पिता अपने बच्चों को जीवन में सकारात्मक रहने का पाठ जीवन की  शुरुआत से पढ़ाते रहतें हैं. ऐसे ही बच्चे जीवन के नकारात्मक परिस्थितियों में भी धैर्यवान बने रहते हैं.

 

इस गुण को अध्ययन और अभ्यास के द्वारा भी सीखा जा सकता है.  मनुष्य अपने जीवन में सतत और एकाग्र अभ्यास के द्वारा किसी भी विद्या में निपुण हो सकता है  और सकारात्मकता में जीने का तो हो ही सकता है.

 

मैजिक जॉनसन के पिता जनरल मोटर्स में एक असेंबली  वर्कर थे .उनकी मां घर का काम करने के अलावा स्कूल में चौकीदारी का काम करती थी. मैजिक जॉनसन के पिता अन्य बचपन से ही उसके अंदर आत्मविश्वास का बीज बोने के लिए जो महान प्रयास किए थे, उसमें से एक घटना का जिक्र मैं आपके साथ करना चाहता हूं. यह बहुत प्रसिद्ध वाकया है और मुझे पूरी उम्मीद है कि आप  संभवत: इसके बारे में पहले भी सुन अथवा पढ़ चुके होंगे…




मैजिक जॉनसन की Inspirational कहानी

एक बार मैजिक जॉनसन के पिता ने 1 सेकंड-हैंड टी-शर्ट लाकर मैजिक जॉनसन को दिया और कहा कि इस टी शर्ट की कीमत $1 dollar है. लेकिन तुम्हें इस टीशर्ट को $2(dollar) में बेचना है. एक तो पुरानी टी-शर्ट  ऊपर से दोगुनी  कीमत ! फिर भी मैजिक जॉनसन ने मना करने की जगह दिमाग लगाया. उस टी-शर्ट में बढ़िया से आयरन किया और ले चला उसे बाजार की तरफ. 

 

 $2(dollar) में टीशर्ट ले लो… $2(dollar) में टीशर्ट ले लो…  ऐसा कहते हुए वह उस मार्केट में दिन भर घूमता रहा. लेकिन  पुराना T-shirt वो भी  दोगुने कीमत में कौन लेगा..? एक व्यक्ति जो उस बालक को लगातार 8 घंटे से ऐसा करते देख रहा था. दयावश T-shirt ले लिया. मैजिक जॉनसन का टीशर्ट बिक गया. 

इस टी-शर्ट के बिकने से उसके आत्मविश्वास में भारी वृद्धि हुई. वह खुशी-खुशी अपने पिता के पास गया और  कहा,- “पापा मैंने इसे बेच दिया !”.

पिता ने  फिर उसे एक काम दिया. वैसा ही एक टी-शर्ट ला कर दिया और बोला,- आप अब इसे $20 में बेच कर दिखाओ. सामान्य परिस्थितियों में तो आदमी ना बोल  जाए. लेकिन इस शख्स ने शर्त स्वीकार की. बेचने से पहले इसने काफी सोच विचार किया. अपने आप से यह प्रश्न पूछा कि आखिर इस काम को कैसे किया जा सकता है? 

 

यकायक एक विचार  उसके दिमाग में  कौंधा . बहुत पुरानी टी-शर्ट में आयरन करने के बाद झटपट मार्केट की तरफ गया. वहां से मिकी माउस का  स्टिकर लिया. उस टी-शर्ट में लगाई और चल पड़ा शहर के उस हिस्से में जहां संभ्रांत और धनी परिवार के लोग रहते थे.

वहां उनके बच्चों के बीच में जाकर बोलने लगा,- ” मिकी माउस  वाला टीशर्ट ले लो सिर्फ $20(dollar) में. ऐसा करते- करते एक बच्चे को पसंद आ गया और उसके माता पिता ने उसे वो टीशर्ट T-shirt खरीद कर दे दी. वही टी-शर्ट जिसकी कीमत $1(dollar) थी,  थोड़ा दिमाग लगाकर मैजिक जॉनसन ने $20(dollar) में बेच दिया. इस घटना से उसके आत्मविश्वास को, उसके आत्मबल को जो सपोर्ट मिला. वह अतुलनीय था उसकी तुलना नहीं की जा सकती…..

बालक जॉनसन प्रसन्न मन से घर आया और अपने पापा को बोला,:- “पापा मैंने यह टी-शर्ट भी $20 में बेच दिया और  यह पैसे! ”

पिता ने मुस्कुराते हुए उसकी तरफ देखा.

थोड़े दिनों के बाद मैजिक जॉनसन के पिता ने उसे फिर से बुलाया. वही पुरानी $1(dollar) की टी-शर्ट उसके हाथ में दी और कहा:- “इसे $200 में बेच कर आओ.” अब वाकई यह थोड़ा हैरान करने वाला वाकया था . मैजिक जॉनसन ने चैलेंज को स्वीकार किया. अपने दिमाग पर जोर डाला कि आखिर कैसे  $1(dollar) में मिलने वाले टी-शर्ट को $200(dollar) में बेचा जा सकता है.

 

तभी उसे ख्याल आया कि उसके शहर में Hollywood का बहुत ही बड़ा star आया है. जॉनसन वहां पहुंच गया. जैसे तैसे बचते-बचाते वाह उस star के पास भी पहुंच गया और बोला,:-” सर  इस T-shirt पर साइन कर दीजिए, प्लीज!”

एक बच्चे को देखकर star उस T shirt में साइन कर दिया,अपना ऑटोग्राफ(autograph) दे दिया.

मैजिक जॉनसन को बिन मांगी मुराद मिल गई. और उसने टी-शर्ट को  वहीं बेचना शुरू कर दिया . वो ऑटोग्राफ किया हुआ टी शर्ट अंततः $2000 में बिक गया. यह कहानी है आत्मविश्वास के चमत्कार की …! 

 

यह है मैजिक जॉनसन की कहानी. यह कहानी पैसा कमाने की कहानी नहीं है. यह कहानी आत्मविश्वास कमाने की है.  कुछ लोग कठिनाइयों में तप कर जहां बिखर जाते हैं, वहीं कुछ लोग उसी कठिनाइयों में निखर उठते हैं. यह सारा खेल आत्मविश्वास का है.

 इस कहानी के माध्यम से जो कुछ बात आपसे शेयर करना चाहता हूँ वह है –

पैसा कमाना नहीं आत्मविश्वास और आत्मबल कमाना बहुत जरूरी है. अगर व्यक्ति के पास आत्मविश्वास है तो वह उससे करोड़ो डॉलर(crores of dollar) कमा सकता है. अगर व्यक्ति के पास आत्मविश्वास है तो वह एड्स जैसी भयंकर बीमारियों से लड़ कर भी एक   सफल जिंदगी जी सकता है. चुनौतियों के सामने टूट कर बिखरने की जगह चुनौतियों के सामने चट्टान की तरह जुट कर और डट कर उनका मुकाबला कर महानता को प्राप्त कर सकता है.

 

हमारे जीवन में अगर कुछ महत्वपूर्ण है तो वह है हमारा आत्मविश्वास अगर कुछ अपनी दौलत है तो वह है हमारा आत्मविश्वास !

इसलिए अपना आत्मविश्वास बनाए रखिए सफलता तो आपके कदम चूमेगी…

शुभकामनाओं सहित आपका अपना दोस्त !

उम्मीद है आलेख “आत्मविश्वास का जादू और Magic Johnson का सफल जीवन पसंद आया होगा. अपने सलाह अथवा सुझाव नीचे कमेंट बॉक्स  में लिखकर अपनी भावनाओं से हमको अवगत करवाएं. इस लेख को अपने दोस्तों के साथ विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर शेयर करें. पूरा पढ़ने के लिए आभार!


ये भी जरूर पढ़ें

  1. करियर काउंसलिंग और सफल करियर निर्माण
  2. बहिर्मुखी व्यक्तित्व आपकी सफलता का सोपान
  3. हमारी सफलता में लक्ष्य निर्धारण की भूमिका



निवेदन :अगर आप भी हिंदी में कुछ मोटिवेशनल अथवा अन्य आर्टिकल लिखते हैं और vicharkranti.com पर शेयर करना चाहते हैं. तो लिख लिख भेजिए अपने फोटो के साथ [email protected] पर. हम उसे आपके नाम और फोटो सहित प्रकाशित करेंगे.


Thankyou





Related posts

Leave a Comment